सुपर कंप्यूटर क्या है? What is super computer?



सुपर कंप्यूटर शब्द का प्रयोग पहली बार अमेरिका में वर्ष 1929 में हुआ था, तब बाइनरी डिजिटल तकनीक (Binary Digital Technique) वाले आज के कंप्यूटरों का जन्म भी नहीं हुआ था। उस समय यह शब्द (Super Computer) गणनायंत्र (Calculator) बनाने वाली अमेरिकी कंपनी ‘आईबीएम’ (IBM) के एक ऐसे भारी-भरकम और जटिल गणनायंत्र (Complex Calculator) की प्रशंसा में गढ़ा गया था, जिसे अपने समय का सबसे तेज गणना यंत्र (Calculation Machine) माना जा रहा था।

सुपर कंप्यूटर क्या है?

वर्तमान समय में सुपर कंप्यूटर (Super Computer) इस्पात (Steel) की ऊंची-ऊंची आलमारियों जैसे लगने वाले उच्च कोटि (High Grade के कंप्यूटरों का एक ऐसा सुसंबद्ध समूह है, जिनमें कई माइक्रोप्रोसेसर (Microprocessor) एक साथ काम करते हुए किसी भी जटिलतम समस्या (Complex Problem) का तुरंत हल निकाल लेते हैं।

किसी सुपर कंप्यूटर (Super Computer) की क्षमता (Strength) का आकलन उसकी ‘कार्य-निष्पादन गति’ (Processing Speed) से लगाया जाता है।

सुपर कंप्यूटर की कार्य निष्पादन क्षमता (Work Performance Capacity) बताने के लिए गीगाफ्लॉप (Gigaflop), टेराफ्लॉप (Teraflop) और पेटाफ्लॉप (Petaflop) जैसी इकाइयों (Units) का प्रयोग होता है। प्रति सेकंड अरबों-खरबों गणनाएं (Calculation) कर देने वाले सुपर कंप्यूटरों का उपयोग खासकर ऐसे क्षेत्रों में किया जाता है जिनमें कुछ ही क्षणों में बड़े पैमाने पर गणनाएं (Calculation) करने की जरूरत पड़ती है, जैसे- मौसम संबंधी अनुसंधान (Meteorological Research), नाभिकीय हथियारों (Nuclear Weapons), क्वांटम फिजिक्स (Quantum Physics) और रासायनिक यौगिकों (Chemical Compounds) के अध्ययन आदि में सुपर कंप्यूटरों का प्रयोग किया जाता है।

प्रत्येक वर्ष नवंबर एवं जून माह में जारी होने वाली टॉप-500 सूची के अद्यतन संस्करण (Update Version) जून, 2022 के अनुसार विश्व एवं भारत के 5 शीर्ष सुपर कंप्यूटरों की सूची इस प्रकार है-

रैंकस्थाननामगति
1ओक रिज नेशनल लेबोरेटरी
यूनाइटेड स्टेट्स
सीमांत (Frontier)1,102.00
1,685.65
2कम्प्यूटेशनल साइंस
जापान के लिए रिकेन सेंटर
फुगाकू442.010
537.212
3यूरोएचपीसी जेयू यूरोपीय संघ,
स्थान: कजानी, फिनलैंड।
लुमी309.10
428.70
4यूरोएचपीसी जेयू यूरोपीय संघ,
स्थान: बोलोग्ना, इटली।
लियोनार्डो
(BullSequana XH2000)
174.70
255.75
5रिड्ज नेशनल (Summit)
लैबरेटरी अमेरिका IBM
सम्मिट
(DOE/SC/Oak)
148.600
200.795

क्या आप जानते हैं?

प्रत्यूष एवं मिहिर क्रमशः भारतीय उष्णकटिबंधीय मौसम विज्ञान | संस्थान, पुणे (Indian Institute of Tropical Meteorology Pune) एवं नेशनल सेंटर फॉर मीडियम रेंज मौसम पूर्वानुमान नोएडा, (National Center for Medium Range Weather Forecast, Noida) में स्थापित होने वाले सुपर कंप्यूटर हैं। इस प्रणाली का उद्घाटन (Inauguration) केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री (Union Minister For Science and Technology) डॉ. हर्षवर्धन (Dr. Harsh Vardhan) ने 8 जनवरी 2018 को किया था। भारत का तीसरा महत्त्वपूर्ण सुपर कंप्यूटर परम सिद्धि है। यह सी-डैक (पुणे) में राष्ट्रीय सुपर कंप्यूटिंग मिशन (NSM) के तहत विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (DST), इलेक्ट्रानिक और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MEIT) द्वारा विकसित है। यह नवम्बर 2020 में विश्व में सबसे शक्तिशाली सुपर कंप्यूटरों की श्रेणी में 63वें स्थान पर है।

कंप्यूटर की आवश्यकता (Need of Computer) अद्यतन परिवेश में कंप्यूटर का उपयोग अति आवश्यक हो गया है, परिणामस्वरूप घर, दफ्तर (Office), स्कूल, रेलवे, मंत्रालय, अनुसंधान केंद्र (Research Center) आदि स्थानों पर इसका बहुतायत उपयोग किया जाने लगा है। दैनिक जीवन के कुछ कार्य ऐसे हैं जिसके लिए हमें कंप्यूटर का उपयोग करना पड़ता है अथवा कंप्यूटर से मिलने वाली सूचनाओं (Information) पर निर्भर (Depend) रहना पड़ता है।

अलग-अलग स्थानों पर और अलग-अलग कार्यों के अनुसार अलग- अलग प्रकार व आकार के कंप्यूटर इस्तेमाल किए जाते हैं। कुछ कंप्यूटर ऐसे होते हैं, जिसे हम स्थायी रूप से एक जगह पर रखकर अपने कार्यों के लिए उपयोग कर सकते हैं जैसे- घर, कार्यालयों, स्कूल आदि तथा सामान्य कार्य करने हेतु कुछ ऐसे भी कंप्यूटर होते हैं, जिसे हम एक स्थान से दूसरे स्थान पर आसानी से ले जाकर अपना कार्य कर सकते हैं, जैसे- लैपटॉप (Laptop), टैबलेट (Tablet), मोबाइल इत्यादि।

कंप्यूटर की उपयोगिता

कंप्यूटर की उपयोगिता (Applications of Computer) कार्यक्षमता (Working Capacity), उपयोगिता, उत्पादकता (Pro- ductivity) के कारण आज कंप्यूटर मानव (Human) जीवन का अंग बन गया है। आज कंप्यूटर का प्रयोग जीवन के हर क्षेत्र (Area) में बहुतायत (Abundance) से हो रहा है। विभिन्न स्थानों (Places) में रहने वाले व्यक्ति कंप्यूटर की मदद से एक-दूसरे से आसानी से सम्पर्क (Contact) स्थापित (Establish) कर सकते हैं। कंप्यूटरों के प्रयोग ने कागजी कार्य को काफी कम कर दिया है। विभिन्न (Different) क्षेत्रों (Area) में कंप्यूटरों का उपयोग निम्नलिखित शीर्षकों में दर्शाया गया है:

(i) शैक्षणिक (Educational) – स्कूल एवं कॉलेजों में कंप्यूटर का उपयोग इस रूप में किया जाता है कि छात्रों को बेहतर (Better) और आसान तरीके से शिक्षा प्रदान की जा सके। इंटरनेट (Internet) के प्रयोग से छात्र किसी भी विषय (Subject) विशेष पर अधिक जानकारी (More Information) प्राप्त कर सकते हैं।

(ii) विज्ञान (Science)-विभिन्न वैज्ञानिकों (Scientists) द्वारा अन्वेषण (Exploration) और शोध (Research) को पूरा करने के लिए कंप्यूटरों का प्रयोग किया जाता है। कंप्यूटर की मदद से वैज्ञानिक (Scientist) भूकम्प (Earthquake) और सुनामी (Tsunami) जैसी प्राकृतिक आपदाओं (Natural Disaster) का पूर्वानुमान लगा पाते हैं।

(iii) मनोरंजन (Entertainment)- कंप्यूटरों का प्रयोग केवल गंभीर कामों के लिए ही नहीं होता बल्कि इसमें हमारे मनोरंजन (Entertainment) के साधन (Resources), जैसे कंप्यूटर गेम्स, मल्टीमीडिया अनुप्रयोग, संगीत आदि की सुविधा भी मौजूद रहती है। बच्चों और बड़ों सभी को लुभाने में इस छोटे से यंत्र (Machine) का बहुत बड़ा योगदान है।

Leave a Comment