डिजिटल कंप्यूटर क्या है? डिजिटल कंप्यूटर कितने प्रकार के होते हैं



इस आर्टिकल में हम जानेंगे की डिजिटल कंप्यूटर क्या है? डिजिटल कंप्यूटर कितने प्रकार के होते हैं?

डिजिटल कंप्यूटर क्या है?

डिजिटल कंप्यूटर (Digital Computer) में सभी निर्देश (In- struction) तथा आंकड़े (Data) बाइनरी डिजिट (Binary Digit) के रूप में सुरक्षित होते हैं।

डिजिटल कंप्यूटर क्या है?
डिजिटल कंप्यूटर क्या है?

डिजिटल कंप्यूटर, असतत रूप में सूचना को संसाधित करके समस्याओं को हल करने में सक्षम उपकरणों का कोई भी वर्ग। यह डेटा पर संचालित होता है, जिसमें परिमाण, अक्षर और प्रतीक शामिल हैं, जो बाइनरी कोड में व्यक्त किए जाते हैं – यानी, केवल दो अंकों 0 और 1 का उपयोग करके।

अंकों या उनके संयोजनों की गिनती, तुलना और हेरफेर करके निर्देशों के एक सेट के अनुसार इसकी स्मृति में, एक डिजिटल कंप्यूटर औद्योगिक प्रक्रियाओं को नियंत्रित करने और मशीनों के संचालन को नियंत्रित करने जैसे कार्य कर सकता है; बड़ी मात्रा में व्यावसायिक डेटा का विश्लेषण और व्यवस्थित करना; और वैज्ञानिक अनुसंधान में गतिशील प्रणालियों (जैसे, वैश्विक मौसम पैटर्न और रासायनिक प्रतिक्रियाओं) के व्यवहार का अनुकरण करें।

डिजिटल कंप्यूटर कितने प्रकार के होते हैं:

डिजिटल कंप्यूटरों को 4 प्रकारों में विभाजित किया जाता है, जैसे माइक्रो कंप्यूटर, मिनी कंप्यूटर, मेनफ्रेम कंप्यूटर और सुपर कंप्यूटर।

  • (i) माइक्रो कंप्यूटर (Micro Computer)
  • (ii) मिनी कंप्यूटर (Mini Computer)
  • (iii) मेनफ्रेम कंप्यूटर (Mainframe Computer)
  • (iv) सुपर कंप्यूटर (Super Computer)

(i) माइक्रो कंप्यूटर (Micro Computer)

यह कंप्यूटर आकार में छोटे होते हैं। इनका विकास (Development) 1970 के दशक में हुआ था। इन कंप्यूटरों में माइक्रोप्रोसेसर (Microprocessor) का प्रयोग किया जाता था, इसलिए इन्हें माइक्रो कंप्यूटर (Micro Computer) कहते हैं। यह वजन में हल्के तथा सस्ते (Cheap) कंप्यूटर होते हैं। इन कंप्यूटरों का प्रयोग घरों एवं छोटे व्यवसायों में किया जाता है। इन कंप्यूटरों को पी.सी. (PC = Personal Computer) भी कहा जाता है।

पी.सी. (PC) को निम्न भागों में बांटा गया है।

  • (a) डेस्कटॉप कंप्यूटर (Desktop Computer)
  • (b) लैपटॉप कंप्यूटर (Laptop Computer)
  • (c) पामटॉप कंप्यूटर (Palmtop Computer)
  • (d) नोटबुक कंप्यूटर (Notebook Computer)
  • (e) टैबलेट कंप्यूटर (Tablet Computer)

(a) डेस्कटॉप कंप्यूटर (Desktop Computer)–डेस्कटॉप कंप्यूटर एक निजी कंप्यूटर (Personal Computer) है। इस कंप्यूटर ही स्थान पर रखने के लिए अभिकल्पित (Design) किया जाता है। को एक सबसे पहला डेस्कटॉप कंप्यूटर Hewlett Packard 9100A, था जिसे वर्ष 1968 में विकसित किया गया। डेस्कटॉप में बनाई गई फाइल हार्डडिस्क में स्टोर होती है। डेस्कटॉप DIMM (Dual Inline Memory Module) बोर्ड का उपयोग करता है।

(b) लैपटॉप कंप्यूटर (Laptop Computer)- लैपटॉप (Laptop) एक पोर्टेबल निजी कंप्यूटर (Portable Personal Computer) है। लैपटॉप का आविष्कार एडम आसबर्न (Adam Osborne) ने वर्ष 1981 में किया था।

लैपटॉप को ब्लूटूथ (Bluetooth) और वाई-फाई (WiFi) के द्वारा इंटरनेट से जोड़ा जा सकता है। सामान्यतः लैपटॉप कंप्यूटर (Laptop Computer) को शक्ति (Power) बैटरी (Battery) द्वारा मिलती है। विश्व का प्रथम लैपटॉप EPSONHEX-20 सेइको (SEIKO) इप्सन (EPSON) कॉरपोरेशन द्वारा बनाया गया। इसमें LCD का प्रयोग किया गया था।

(c) पामटॉप कंप्यूटर (Palmtop Computer)– पामटॉप एक प्रकार का पोर्टेबल (Portable) कंप्यूटर है। चूंकि इसको हम अपने पॉकेट में भी रख सकते हैं, इसलिए इसे पॉकेट कंप्यूटर भी कहते हैं। पामटॉप कंप्यूटर की क्षमता (Capacity) डेस्कटॉप कंप्यूटर और लैपटॉप कंप्यूटर से कम होती है और इसका उपयोग कार्यालय (Office) में नहीं किया जाता है।

इसका आकार (Size) छोटा और भार कम होता है। पहला पामटॉप कंप्यूटर 1989 में विकसित किया गया। IP POCKET PC और अटारी पोर्टफोलियो (Atari Port Folio) को प्रथम पामटॉप कंप्यूटर कहा जा सकता है। (d) नोटबुक कंप्यूटर (Notebook Computer)- नोटबुक कंप्यूटर आकार (Size) में छोटा और वजन में कम होता है। इसकी प्रोसेसिंग (Processing) और स्टोरेज क्षमता (Storage Capacity) लैपटॉप की तुलना (Comparison) में कम होती है। नोटबुक कंप्यूटर का अभिकल्पन (Design) विशेष रूप से गतिमान (Moving) अवस्था (Stage) में वायरलेस नेटवर्क (Wireless Network) द्वारा इंटरनेट (Internet) के उपयोग के लिए किया गया है।

(e) टैबलेट कंप्यूटर (Tablet Computer)-टैबलेट कंप्यूटर पतले (Thin) और छोटे आकार ( Small Size) का कंप्यूटर है, यह किताब (Book) के आकार (Size) का होता है। यह स्मार्ट फोन (Smart Phone) का बड़ा आकार (Big Size) है। इसमें वाई-फाई और 3G, 4G नेटवर्क भी सपोर्ट करता है। इसकी संग्रह क्षमता (Storage Capacity) कम होती है। वर्ष 1989 में प्रकाशित GRiDPad 1900 को पहला व्यावसायिक रूप से सफल टैबलेट कंप्यूटर माना जाता है।

(ii) मिनी कंप्यूटर (Mini Computer)

मिनी कंप्यूटर (Mini Computer) आकार में माइक्रो कंप्यूटर से बड़े तथा मेन फ्रेम कंप्यूटर से छोटे होते हैं। मिनी कंप्यूटर की वर्ड लेन्थ (Word Length) 32 बिट (Bit) या इससे अधिक होती है। मिनी कंप्यूटर (Mini Computer) का प्रयोग पेरोल, एकाउंटिंग (Accounting), वैज्ञानिक (Scientific) प्रयोगों आदि के लिए किया जाता है। Digital Equipment Corporation (DEC) ने वर्ष 1960 में पहला मिनी कंप्यूटर PDP-I विकसित किया।

(iii) मेनफ्रेम कंप्यूटर (Mainframe Computer)

ये कंप्यूटर बड़ी कंपनियों एवं कार्यालयों में सर्वर (Server) कंप्यूटर के रूप में प्रयोग किए जाते हैं। इनकी कार्य क्षमता (Capacity) मिनी कंप्यूटर (Mini Computer) से बहुत अधिक होती है। इस कंप्यूटर पर एक साथ कई प्रयोक्ता (User) लॉग-इन (Login) कर सकते हैं। इसकी स्मृति (Memory) बहुत अधिक होती है। इन कंप्यूटरों में माइक्रो कंप्यूटर (Micro Computer) का प्रयोग क्लाइंट (Client) के तौर पर किया जाता है।

मेनफ्रेम कंप्यूटर (Mainframe Computer) निम्न हैं-IBM 4381, ICL 39, CDC Cyber आदि। अप्रैल 1964 में पहला मेन फ्रेम कंप्यूटर IBM360 लांच किया गया। जेने एम्डाहल (Gene Amdahl) को मेन फ्रेम कंप्यूटर का पिता कहा जाता है।

डिजिटल कंप्यूटर कितने प्रकार के होते हैं?

Ans. डिजिटल कंप्यूटरों को 4 प्रकारों में विभाजित किया जाता है, जैसे माइक्रो कंप्यूटर, मिनी कंप्यूटर, मेनफ्रेम कंप्यूटर और सुपर कंप्यूटर।

लैपटॉप का आविष्कार किसने किया था?

Ans. एडम आसबर्न

(iv) सुपर कंप्यूटर (Super Computer)

सुपर कंप्यूटर शब्द का प्रयोग पहली बार अमेरिका में वर्ष 1929 में हुआ था, तब बाइनरी डिजिटल तकनीक (Binary Digital Technique) वाले आज के कंप्यूटरों का जन्म भी नहीं हुआ था। उस समय यह शब्द (Super Computer) गणनायंत्र (Calculator) बनाने वाली अमेरिकी कंपनी ‘आईबीएम’ (IBM) के एक ऐसे भारी-भरकम और जटिल गणनायंत्र (Complex Calculator) की प्रशंसा में गढ़ा गया था, जिसे अपने समय का सबसे तेज गणना यंत्र (Calculation Machine) माना जा रहा था।

Leave a Comment